अश्वगंधा के फायदे ( ashwagandha ke fayde )

आयुर्वेद में कई जड़ी-बूटियों के बारे मे बताया गया है जिनमे से एक है अश्वगंधा। आपने भी कहीं-न-कहीं अश्वगंधा का नाम जरूर सुना या पढ़ा होगा। अखबारों में, टीवी पर या कहीं देखा ही होगा जिसके कई फायदे है, जिसके नियमित सेवन से हम अपने जीवन को स्वस्थ बना सकते हैं। तो आइए अश्वगंधा के अनगिनत लाभों में से कुछ मुख्य लाभ हम आपको इस लेख में बताते हैं।

 

( 1 ) बच्चो के लिए अश्वगंधा के फायदे :

जब बात आती हैं बच्चों की तब बिना डॉक्टर की सलाह के हम कुछ भी नहीं करते, अश्वगंधा के इस्तेमाल के लिए भी डॉक्टर की सलाह के बाद ही बताई गई मात्रा में बच्चे को दूध के साथ अश्वगंधा चूर्ण मिला कर सेवन करने से बच्चो की हाइट बढ़ती हैं, बच्चों के वजन में बढ़ोतरी होती हैं, स्टेमिना बढ़ता हैं, आंखों की रौशनी अच्छी होती हैं, बच्चो में रोगप्रतिकार क्षमता बढ़ती हैं।

 

( 2 ) महिलाओं के लिए अश्वगंधा के फायदे :

आज भी प्रसूति के दौरान कई महिलाओं की मृत्यु हो जाती है, पोषण की कमी के कारण उनका स्वास्थ्य खराब रहता हैं। अश्वगंधा के नियमित सेवन से महिलाओं की महावारी की समस्या ठीक होती है, हार्मोंस लेवल नॉर्मल रहता है, खून की कमी के कारण घुटने में दर्द और सूजन की समस्यां होती है जिसे अश्वगंधा के सेवन से ठीक किया जा सकता है। अश्वगंधा के रोजाना सेवन से स्त्रियों को गर्भधारण करने मे समस्यां नही होती। मेनोपॉज में भी अश्वगंधा लाभ दायक है।

 

( 3 ) पुरुषों के लिए अश्वगंधा के फायदे :

भाग दौड़ भरी जिंदगी में आज हर तीसरा पुरुष स्खलन या शीघ्रपतन से परेशान है और ये कोई बोहोत बड़ी शारीरिक समस्यां नही है किंतु इस समस्यां का मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है, जिससे तनाव होने लगता है और अगर इस विषय में व्यक्ति संकोच कर के बात ही न करे तो अवसाद भी हो सकता है, अश्वगंधा के नियमित रूप से सेवन करने से पुरुषों को ताकत मिलती है, शीघ्रपतन या स्खलन की समस्यां का निवारण होता है। पुरुष में लिबिडो सेक्स करने की चाहत बढ़ती है क्षमता बढ़ती है और सेक्स लाइफ अच्छी हो जाती हैं।

 

( 4 ) कैंसर के इलाज में कारगर :

हाल ही के एक अध्ययन में इस बात की पुष्टि की गई है कि अश्वगंधा कैंसर के इलाज में कारगर है, कैंसर को जड़ से ठीक करने के लिए कुछ और दवाइयां लगती है लेकिन अश्वगंधा से कैंसर के नए सेल्स बनने बंद हो जाते है, कैंसर के नए सेल्स न बनने से कैंसर जैसी गंभीर समस्याओं का रोकथाम किया जा सकता है।

 

( 5 ) रक्त विकार को दूर करता है :

अश्वगंधा के नियमित सेवन करने से रक्त विकार दूर होता है रक्त ने अगर को इन्फेक्शन है या बेक्टीरिया है तो उसे साफ करता है। अश्वगंधा व्हाइट ब्लड सेल्स और रेड ब्लड सेल्स को बढ़ाता है और व्यक्ति को तंदुरुस्त बनाता है।

 

( 6 ) आंखो की समस्यां का निदान :

आज 5 साल से कम उम्र के बच्चो को भी हम पावर वाला चश्मा पहने देखते है, अश्वगंधा के नियमित सेवन से आंखो की सारी समस्याओं का निदान होता है, जैसे की आंखों में नंबर आना, अंखिजनि, रौशनी यहां तक कि मोतियाबिंद से ग्रस्त लोगो के लिए भी अश्वगंधा काफी उपयोगी साबित होता है।

 

( 7 ) गले की समस्याओं ( गलगंड ) का निदान :

दूध के साथ रोज रात को अश्वगंधा चूर्ण के सेवन से गले की समस्याओं से छुटकारा मिलता है, पुरानी-से-पुरानी खांसी को ठीक किया जा सकता है इतना ही नहीं खांसी से होने वाली छाती की तकलीफ भी ठीक होती है।

 

( 8 ) मानसिक स्वास्थ्य में सुधार :

अश्वगंधा के नियमित रूप से सेवन करने से व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य में सुधार होता हैं, एक अध्ययन में पाया गया है की अश्वगंधा के नियमित सेवन करने से व्यक्ति का 70 प्रतिशत तनाव घटाया जा सकता हैं। व्यक्ति की  नींद में भी सुधार होता है और स्ट्रेस लेवल घटता है।

 

( 9 ) पेट की समस्याओं का निदान :

देखा जाए तो सारे समस्याएं पेट से ही शुरू होती है, हम जो भी खाते हैं उसका सीधा असर पेट पर पड़ता है और फिर हमारे शरीर के दुसरे अंगो पर। अश्वगंधा का नियमित करने से इम्यूनिटी सिस्टम में सुधार होता है, चयापचय ठीक से होने लगता है। कोलेस्ट्रोल कम करता है, पाचनतंत्र ठीक से काम करने लगता है, कब्ज की समस्या दूर होती है। थायराइड जैसी समस्याओं को दूर करता है।

 

( 10 ) टीवी से छुटकारा :

डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही टीबी के मरीजों को अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए, एक रिपोर्ट के अनुसार नियमित रूप से अश्वगंधा का दूध और गिलोय के साथ सेवन करने से टीबी से छुटकारा पाया जा सकता है।

 

( 11 ) डायबिटीज में असरकारक :

आज के समय में हर तीसरा इंसान डायबिटीज से ग्रस्त हैं, अश्वगंधा चूर्ण डायबिटीज को कम करता हैं और डायबिटीज की वजह से होने वाली समस्याओं से छुटकारा दिलाता है।

 

( 12 )हृदय संबंधित परेशानियों से छुटकारा :

अश्वगंधा रिक्टिव ऑक्सीजन स्पिशिज का निर्माण करता है। शरीर में ऑक्सीजन की कमी नहीं होने देता। लीवर सबंधित रोग से बचाव करता है। कोलेस्ट्रोल कम करता है। हृदय संबंधित सारी परेशानियों से बचाव करता है।

 

( 13 ) सुंदरता बढ़ाएं :

अश्वगंधा के नियमित सेवन करने से आप लंबे समय तक युवा बने रह सकते हैं। कम उम्र में ही बाल पकने शुरू नही होते, बाल झड़ने की समस्यां दूर होती है, बाल टूटने बंद होते है और बाल लंबे होने लगते है। त्वचा संबंधित रोगों का समाधान होता है, त्वचा पर प्राकृतिक निखार आता है। चर्म रोग नही होता। मांशपेशियां मजबूत होती है, ढीले अंग मजबूत होते है।

 

( 14 ) वजन बढ़ाने में उपयुक्त :

आज के समय में हर क्षेत्र में अच्छा दिखना जरूरी है इससे अच्छा प्रभाव पड़ता है। अगर कोई बोहोत पतला है तो भी ये अच्छा नही माना जाता और कोई मोटा है तो ये भी समस्यां है। अश्वगंधा के सेवन से वजन को बढ़ाया जा सकता है ये व्यक्ति को शारीरिक मजबूती देता है और व्यक्ति का वजन बढ़ता है।

 

( 15 ) संक्रमण से बचाव :

मौसम की सर्द गर्म के संक्रमण से होने वाली सर्दी, बुखार जैसी समस्याओं से बचाव करता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ जीवन जीता है।

Leave a Comment