थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी – चौथा भाग

इसी के बाद से एडिसन ने बल्ब के ऊपर कार्य करना शुरू कर दिया था बल्ब के साथ एक और परेशानी थी कि उसे बहुत ही ज्यादा बिजली की आवश्यकता होती थी चलने के लिए और इसके कारण बिजली बहुत ही ज्यादा बर्बाद सी होती थी साथ में जब बल्ब जल्दी जाता था तो वह …

Read more

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी – तीसरा भाग

टेलीग्राफ में कार्य करने के बाद थॉमस अल्वा एडिसन 19 साल में वेस्टर्न यूनियन में चले गए और वहां पर जाकर कार्य किया। रात में नौकरी लगी थी वह जाकर अपना कार्य करते थे जिसके कारण उनके पास दिन भर का समय अपने प्रयोग को करने के लिए होता था। एडिसन ज्यादातर समय अपने खोज …

Read more

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी – दूसरा भाग

थॉमस अल्वा एडिसन अपने पेपरों को ग्रेट ट्रंक रेलरोड में बेचा करते थे वह रेलवे स्टेशन पर जाते हैं और वहां पर ट्रेनों के अंदर जाकर यात्रियों को अपने पेपर बांटा करते थे कुछ ही समय के अंदर यात्री को थॉमस अल्वा एडिसन के पेपरों को बहुत ज्यादा पसंद करने शुरू कर दिया और थॉमस …

Read more

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी – पहला भाग

थॉमस अल्वा एडिसन की जीवनी

आज हम बात करने जा रहे हैं वह उनीस्वी सदी के सबसे बड़े इंवेंटेड थॉमस अल्वा एडिसन की। थॉमस अल्वा एडिसन के पास दुनिया की सबसे ज्यादा इंवेंशन करने का  वर्ल्ड रिकॉर्ड है उन्होंने अपनी जिंदगी भर में १०९३। थॉमस अल्वा एडिसन पूरी दुनिया में बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध साइंटिस्ट के रूप में जाने जाते …

Read more

रतन टाटा की जीवनी – दूसरा भाग

रतन टाटा की जीवनी

1984 में टाटा ने इंडिका गाड़ी निकली थी। इंडिका चाहे इस समय तो बहुत ही अच्छी कार बन चुकी है क्योंकि उसके काफी अच्छी ज्यादा खूबी है परंतु जिस समय वह लॉन्च करी गई थी तब इंडिका बहुत ज्यादा सफल नहीं हुई थी।  जिसके कारण कंपनी लॉस में आने लग गई थी। रतन टाटा ने …

Read more

रतन टाटा की जीवनी – पहला भाग

रतन टाटा की जीवनी

रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 में हुआ था और साथ ही 1938 में उसी समय के दौरान जारी जहांगीर रतनजी दादाभाई टाटा जो कि रतन टाटा के भाई थे और टाटा ग्रुप के चौथे चेयरमैन बन गए।  जहांगीर रतनजी दादाभाई टाटा के कारण ही रतन टाटा अपने उस मुकाम पर आ पाए और …

Read more