एलोन मस्क की जीवनी पहला भाग

एलोन मस्क अफ्रीका में जन्मे एक बहुत ही सफल उद्योगपति हैं। जिन्होंने एक्स डॉटकॉम को १९९९ में शुरू किया जो बाद में पेपाल बन गया इसके साथ ही स्पेस एक्स को उन्होंने २००२ में शुरू किया और २००३ में टेस्ला मोटर नाम की कंपनियां शुरू की। एलोन मस्क अपने 20 के दशक में ही एक अरबपति बन गए थे जब उन्होंने ज़िप २ नाम की कंपनी शुरू की थी। 

एलोन मस्क ने 2002 में स्पेसएक्स के पहले रॉकेट को लॉन्च करके, स्पेस की दुनिया में अपनी पकड़ जमाना शुरू कर दी थी। और स्पेस में नासा से सबसे पहला कॉन्ट्रैक्ट लेने वाली कंपनी बनी जो स्पेस में जाकर नासा के स्पेस स्टेशन में उनको सामग्री साथ में सर्विसेस प्रोवाइड करने का कार्य करती है। और यही नहीं एलोन मस्क सोलर सिटी को भी खरीद चुके हैं जोकि दुनिया का सबसे बड़ा सोलर पैनल से एनर्जी बनाने वाला शहर है। एलोन मस्क ने डोनाल्ड ट्रंप के राष्ट्रपति होने के कुछ शुरुआती दिनों में डोनाल्ड ट्रंप के व्यक्तिगत सलाहकार  देखाई दिए थे। 

एलोन मस्क का जन्म 28 जून १९७१ में साउथ अफ्रीका में प्रीटिरिआ में हुआ था।  जब एलोन मस्क बहुत ही कम उम्र के थे तो वह अक्सर अपने सपनों की दुनिया में खो जाते हैं और टेक्नोलॉजिकल इंवेंशंस के बारे में ही सोच रहा करते थे। जिससे उनके माता-पिता बहुत ही आश्चर्यचकित हो गए थे क्योंकि एलोन मस्क किसी को भी जवाब नहीं देते थे जब वह सोच रहा करते थे। इसे देखकर उनकी मां काफी भयभीत भी हो गई थी और एलोन मस्क को उनके सुनने की शक्ति का परीक्षण कराने के लिए डॉक्टर के पास भी ले गई। 

जब एलोन मस्क 10 साल के थे तब उनके माता-पिता का तलाक हो गया और एलोन मस्क ने अपने पिता के साथ रहने का फैसला किया। इसी के साथ मस्क को अब कंप्यूटर्स में काफी दिलचस्पी थी और वह काफी कंप्यूटर पर बुक्स को पढ़ा किया करते थे कुछ समय के अंदर उन्होंने कंप्यूटर प्रोग्रामिंग में महारत हासिल कर ली, और इसी के चलते हैं उन्होंने 12 वर्ष में एक गेम बनाया जिसका नाम एलोन मस्क ने ब्लास्टर रखा और इसको $500 में बेच दिया और यही से एक उद्योगपति का जन्म हो गया। 

जब एलोन मस्क अपने जवानी के समय में थे तब मिलिट्री सर्विस से बचने के लिए साउथ अफ्रीका में, जो किसिर्फ सफेद लोगों को मिलिट्री सर्विस में भर्ती कर रही थी, उस से पीछा छुड़ाने के लिए एलोन मस्क केनेडा आ गए। उनकी माँ के जान पहचान से उन्होंने कनाडा के अंदर एक अच्छी यूनिवर्सिटी में दाखिला मिल गया। 

अपनी अंडर ग्रेजुएट एजुकेशन को पूरा करने के लिए उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ पेंसिलवेनिया में दाखिला ले लिया जहा पर जाकर उन्होंने फिजिक्स में पढाई करी और उसके साथ उन्होंने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी जो कि कैलिफ़ोर्निया में है उसमें एक फिजिक्स में पीएचडी करने का प्रोग्राम भी प्राप्त कर लिया था। 

 वे जब पीएचडी करने के लिए कैलिफोर्निया में आए तब इंटरनेट उस समय बिल्कुल शुरुआती पीढ़ी में था और बहुत ही अच्छी रफ्तार से बढ़ रहा था उनके दिमाग में सिर्फ एक ही बात चल रही थी कि या तो वह इसका हिस्सा कैसे हो सकते हैं या फिर इसे होते हुए देख सकते हैं।  फिर क्या था एलोन मस्क ने अपनी पीएचडी प्रोग्राम को एक तरफ रख दिया और अपने जुनून को जो कि बिजनेस था उसे करने के लिए उन्होंने एक कंपनी की स्थापना कर दी जिसका सर्वप्रथम काम था कि वह एक ऑनलाइन सिटी गाइड के माध्यम से न्यूजपेपर पब्लिशर के बिजनेस को उनकी वेबसाइट के लिए कंटेंटप्रोवाइडर करने का कार्य करती थी। यह एलोन मस्क के कड़ी मेहनत की वजह से ही है कि उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम और शिकागो ट्रिब्यूनल जैसे बड़े अखबारों तक भी कॉन्ट्रैक्ट को प्राप्त कर लिया था। 

 इस वक्त के दौरान अलोन सिर्फ 24 साल के थे और उन्होंने अपने पीएचडी प्रोग्राम को एक तरफ रख दिया था और वह अपनी कंपनी को सफल बनाने के लिए कड़ी मेहनत में लगे हुए थे, वह जिस ऑफिस में कार्य करते थे उसी ऑफिस में जमीन पर ही सो जाया करते थे। वह दिन में वेबसाइट ऑनलाइन करते और रात भर उसमें कोडिंग कर रहे होते थे। वह एक इंटरव्यू में बताते हैं कि कैसे वह सोफा पर ही सो जाया करते थे और एक लोकल रूम में रहते थे क्योंकि वह किसी अपार्टमेंट में रहने से कई ज्यादा सस्ता था। 

एलोन मस्क की ज़िप २ की कंपनी कम्पाक के द्वारा 307 मिलियन  डॉलर  में खरीद ली गयी और वह उस समय की एक बहुत ही बड़ी डील में साबित हुई और एलोन मस्क को अपना 7% जो कि 22 मिलियन डॉलर था वह मिल गया। उसी के साथ एलोन मस्क 28 साल की उम्र में एक मिलियनेयर बन गए। सन 1999 में उन्होंने एक दूसरी कंपनी की स्थापना करी जिसका नाम उन्होंने एक्स डॉटकॉम रखा। यह एक ऑनलाइन बैंक था जो आपको सभी प्रकार के फाइनेंशियल सर्विसेस प्रोवाइड करता था। यह ऑनलाइन बैंक बहुत ही सुरक्षित तरीके से पैसे को एक जगह से दूसरी जगह ट्रांसफर करता था क्योंकि एलोन मस्क पहले ही अपने ज़िप २ की कंपनी की सफलता की वजह से काफी प्रसिद्ध भी हो गए थे इस वजह से उन्हें इन्वेस्टर की कोई कमी नहीं पड़ी, एक्स डॉटकॉम को काफी अच्छा इन्वेस्टिंग मिली।  

एक्स डॉटकॉम ने सभी लोगो के बैंक में $20 ट्रांसफर करते थे जो सबसे पहले साइन कर चुके थे और अगर किसी को वे शेयर करेंगे तो उनको $10 मिलता था और इसी तरीके से 2 महीने में एक्स डॉटकॉम ने एक सौ हजार उपभोगकर्ता  को अपने बैंक का इस्तेमाल करवाया, परंतु वेबसाइट सिक्योरिटी में सभी लोग परेशान थे और जिसके कारण लोग अब वेबसाइट पर शंका कर रहे थे।  तब उनको एक नया तरीका निकालना पड़ा जो कि कैंसिल चेक को वेरीफाई करवाना था इसकी वजह से कंपनी में भी काफी परेशानियां हुई। 

एलोन मस्क की जीवनी दूसरा भाग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *