माइक टॉयसन की जीवनी – तीसरा भाग

माइक टायसन जब 3 साल के बाद आते हैं तो फिर वह दूसरों के छक्के उड़ाने लगते है क्योंकि कहते हैं ना शेर चाहे जितना भी घायल हो जाए रहता शेर ही है। उसी तरीके से माइक टायसन ने भी दूसरों के छक्के छुड़ाने शुरू कर दिए वे रिंग  में आकर लोगों को एक ही मुक्के से ढेर कर दिया करते थे और माइक टायसन के पास पहले से ज्यादा पैसा भी आने लग गया।  उन्होंने पीटर मक्नीले को हरा दिया और उनकी सबसे पहली बॉक्सिंग कमबैक फाइट लगभग 96 मिलियन डॉलर की हुयी थी और यूनाइटेड स्टेट्स में वह ६३ मिलियन डॉलर की फाइट थी जिस कारण से माइक टायसन के पास और भी शोहरत आने लग गई थी पहले से भी ज़्यादा। 

इसके बाद अगली सबसे बड़ी फाइट माइक कि होलीफील्ड के साथ होने जा रही थी हॉलीफील्ड अब तक के दूसरे बॉक्सर थे जिन्होंने तीन बार लगातार हैवीवेट चैंपियनशिप बेल्ट को अपने पास रखा था। होलीफील्ड और माइक टायसन की लड़ाई 28 जून 1987 में तय हो गई थी और यह 2007 तक की सबसे बड़ी पैसे की लड़ाई होने वाली थी जिसमें माइक टायसन को 30 मिनट डॉलर और हॉलीफील्ड को 35 मिलियन डॉलर मिलने वाले थे। 

होलीफील्ड के लड़ने के तरीके की वजह से माइक टायसन काफी ज्यादा परेशान हो रहे थे क्योंकि होलीफील्ड माइक टायसन के सिर सर पर अपने सर से मर रहे थे और  उनको परेशान कर रहे थे जब माइक टायसन ने इसकी बात की शिकायत है तब रेफरी ने माइक तीसों को ज्यादा ध्यान नहीं दिया और होलीफील्ड को एक वार्निंग के बाद छोड़ दिया गया जिस कारण से माइक टायसन को और भी गुस्सा आने लग गया था फिर अपने तीसरे राउंड में माइक टायसन ने होलीफील्ड के कान काट लिए थे और जैसे ही रेफरी ने इसको देखा तो माइक टायसन को रोक दिया गया और उन्हें डिसक्वालीफाई कर दिया गया माइक टायसन से 2 साल के लिए बॉक्सिंग का लाइसेंस भी ले लिया गया और उनके ऊपर काफी बड़ी पेनल्टी भी लगाई गई इतिहास में सबसे बड़ी कंट्रोवर्शियल फाइट बन गई थी। 

फिर जब माइक टायसन के ऊपर से बैन हट गया था तो उनको बॉक्सिंग खेलने फिर से पाया गया परंतु अब 1999 में जब उनका मैच हुआ माइक टायसन का फ्रैंकोइस के साथ साउथ अफ्रीका के।  तो यह देखा गया कि मैं अब वह पहले वाली बात नहीं रह गई थी और माइक टायसन पहले जरा अब खेल नहीं पा रहे हैं लड़ नहीं पा रहे थे। 

 साथ ही एक और बार माइक टायसन को गिरफ्तार कर लिया गया था  राह चलते बाइक सवारों से बिढ़ने के लिए माइक टायसन को उसके बाद 1 साल की सजा हो गई और $5000 का जुर्माना भी भरना पड़ा यह अगस्त 1998 में हुई थी। 

से माइक टायसन ने दोबारा रिंग के अंदर 2002 में हैवीवेट चैंपियनशिप के लिए उन्होंने फिर से  इस लड़ाई से पहले यह बहुत बात हो रही थी कि माइक टायसन शायद इस लड़ाई में जीत जाए परंतु उसके खिलाफ ऐसे नहीं हुआ माइक टायसन 8 राउंड तक आते-आते हार मान गए थे और यहां तक उन्होंने सोच लिया था कि इसके बाद में रिटायरमेंट ले लेंगे और वह बॉक्सिंग को आप पैसा कमाने के लिए इस्तेमाल नहीं करेंगे। 

अगस्त 2003 तक आते आते समय के माइक टायसन पूरी तरीके से कंगाल हो चुके थे और उन्होंने बैंक्रप्सी फाइल कर दी थी माइक टायसन ने उस समय तक 300 मिलियन डॉलर से भी ज्यादा क्या पैसे उड़ा दिया था और 50 मिलियन डॉलर का अलग से बैंक से उधार लिया था अपनी इस प्रकार की को बताने के लिए माइक टायसन अपने सारे गाने पड़े थे। 

अब माइक टायसन को वह कर्जा उतारने था जो उन्होंने बैंक से लिया था इसके लिए उन्होंने मूवीस करना शुरू कर दिया और छोटे-छोटे शूज पर जाकर माइक टायसन पैसे कमाने का जरिया ढूंढने लग गया उसके एक आखिरी मैच जुलाई 2004 में हुआ था माइक टायसन ने बॉक्सिंग से एक बार फिर पैसा कमाने की कोशिश करें और इस बार डैनी विलियम के खिलाफ उन्होंने कम बैक फाइट रखी परंतु माइक टायसन को नॉक आउट कर दिया गया यह सब माइक टायसन ने वहां साफ-साफ बता दिया था कि अगर बॉक्सिंग का इस्तेमाल पैसा कमाने के लिए छोड़ देंगे और उसे स्पोर्ट्स की तरह कि वह आगे वह खेलेंगे और 2005 तक आते-आते माइक टायसन ने अपना असली रिटायरमेंट ले लिया। 

इसके बाद माइक टायसन ने कई एग्जीबिशन लड़ाइयां भी लड़ी और वहां से थोड़ा बहुत पैसा कमाया माइक टायसन ने अपना सारा कर्जा चुका दिया है और अब वह बिल्कुल आराम से अपनी जिंदगी बिता सकते थे। वह छोटे-छोटे एग्जिबीशंस करके पैसा जुटाया करते थे और माइक टायसन ने माइक टायसन केयर फाउंडेशन भी शुरू करी थी जो बच्चों को बॉक्सिंग ट्रेनिंग और उनके आगे के लिए बॉक्सिंग केरियर को बढ़ावा देने का कार्य करती थी साथ ही साथ यह फाउंडेशन उन सभी बच्चों को ढूंढती थी जो काफी अच्छे परंतु गरीब बॉक्सर थे माइक टायसन अपने ही जैसे इलाकों से आए हुए बॉक्सर को आगे बढ़ा रहा का कार्य करते थे। 

माइक टायसन ने कई सारी फिल्मों में भी काम किया है जैसे कि द हैंगओवर और ई प  मैंन भी और यह दोनों ही फिल्म बहुत ही प्रसिद्ध हुई हैं।  माइक टायसन को इस सदी का सबसे बड़ा बॉक्सर के तौर पर भी देखा जाता है और उनकी कुछ ही राउंड में लोगों को ध्वस्त कर देने के तरीके जैसा शायद ही कोई आ पाएगा।  सभी बड़े बॉक्सर माइक टायसन से जब सबसे अपने चरम पर थे लड़ने से काफी डरते थे और यह बात बिल्कुल साबित हो जाती है उनके कई मैचों में उन्होंने अपने विरोधियों को कुछ ही मुक्को में ढेर कर दिया है। 

2017 में माइक टायसन ने अपने यूट्यूब चैनल शॉर्ट स्टूडियोज के साथ शुरू किया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *