निकोला टेस्ला की जीवनी – दूसरा भाग

इसके बाद  निकोला टेस्ला बहुत ही कम पैसों में कार्य करना शुरू कर देते हैं और अपने बच्चा कूचे समय में वह लोगों के साथ ताश खेला करते थे। निकोला टेस्ला के पिता उन्हें कई बार बुलाते थे कि वह वापस आ जाए परंतु  निकोला टेस्ला उनकी एक ना सुनते थे। 

इसके बाद  निकोला टेस्ला एक टेलीफोन कंपनी के लिए भी काम करते हैं और कुछ समय काम करने के बाद  निकोला टेस्ला अमेरिका के लिए रवाना हो जाता है जो। तब उनके पास बिल्कुल भी पैसा नहीं होता है और किसी तरीके से वह थोड़ा बहुत पैसे जुटाकर अमेरिका में अपने सपनों को पूरा करने के लिए चले जाते हैं और 

निकोला टेस्ला थॉमस अल्वा एडिसन की कंपनी में काम करना शुरू कर देते हैं। 

 बहुत ही जल्द निकोला टेस्ला एडिशन की कंपनी के अंदर बहुत ही कड़ी मेहनत से कार्य करने लगते हैं। एक बार एडिशन कहते हैं कि जो भी उनके जनरेटर को सही करके दिखा देगा उनको वह $50000 देंगे और यह  निकोला टेस्ला के लिए बहुत ही बड़ी रकम होती है , जो वह एक कंपनी खोलकर उसे चलाना चाहते थे और उसके लिए वह पैसे जुटा भी रहे थे।   निकोला टेस्ला ने इससे एक अच्छा मौके की तौर पर देखा और एडिशन की जनरेटर को सही कर कर उन्हें दे दिया। 

 निकोला टेस्ला जब एडिसन के पास जाते है तब एडिसन कहते है की यह एक मजाक था और उन्होंने यह से बहुत ही ज्यादा गंभीरता से ले लिया है।  निकोला टेस्ला बहुत ही सदमे में आ जाते हैं और उनको लगता है कि उनके साथ एक बहुत बड़ी धोखाधड़ी हो गई है इस कारण से निकोला टेस्ला एडिसन की कंपनी को उसी वक्त छोड़ कर चले जाते हैं। 

इसी के बाद  निकोला टेस्ला एडिशन के प्रति विज्ञान की जंग छेड़ देते हैं और वही से एसी और डीसी की जंग बहुत ही सालों तक चलने वाली है और  विज्ञान के क्षेत्र में सबसे बड़ी युद्ध भी मानी जाती है। निकोला टेस्ला हमेशा से अल्टरनेटिंग करंट को ही सबसे बढ़िया मानते देखेगी ,अल्टरनेटिंग करंट बिना एनर्जी खर्च काफी दूर तक जा सकती है परंतु डायरेक्ट करंट जोकि एडिशन की करंट होती है उसको बार-बार रिपीट लगाकर उसके एनर्जी को कई बार बार बढ़ाना पड़ता है जिस कारण से उसमें काफी पैसा भी खर्च हो जाता है क्योंकि एडिशन के पास एक बहुत बड़ी कंपनी होती है और बहुत सारा पैसा होता है तो वह कई प्रकार के अपने मार्केटिंग स्ट्रैटेजिस लगाकर  निकोला टेस्ला के अल्टरनेटिंग करंट को दबाने की भी काफी कोशिश करते थे।  परंतु  निकोला टेस्ला हार मानने वालों में से नहीं थे। 

क्योंकि  निकोला टेस्ला को अपनी कंपनी खोलने के लिए पैसा चाहिए था और उन्हें कहीं भी पैसा नहीं मिला था क्योंकि एडिसन की कंपनी से उन्हें बाहर निकाल दिया गया था और उन्हें कोई भी कार्य करने के लिए अपनी कंपनी में दाखिला नहीं दे रहे थे।  आज इस कारण से एडिशन को गड्ढे खोलने तक का भी काम किया है और अपने कंपनी के लिए पैसे जुटाने की भरसक परिश्रम करा है  निकोला टेस्ला ने। 

टेस्ला अपनी कंपनी को बनाने में कामयाब हो जाते हैं उनको अच्छी खासी फंडिंग मिल जाती है और वह अपनी पहली कंपनी स्थापना कर देते हैं अल्टरनेटिंग करंट को बनाने में कामयाब भी हो जाते हैं। 

निकोला टेस्ला अपनी करंट को कई जगहों पर दिखाने लगते हैं और निवेशक इसके ताकत पर विश्वास कर लेते हैं कि आगे चलकर अल्टेरनेटिंग करंट ही इस दुनिया में राज्य करेगी।  तो  निकोला टेस्ला को काफी अच्छी खासी फंडिंग मिल जाती है अपने प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने के लिए। 

इसके अलावा निकोला टेस्ला ने उस समय ही वायरस ट्रांसमिशन की बात करनी शुरू कर दी थी और उन्होंने यह बता दिया था कि इंफॉर्मेशन और का आदान-प्रदान बिना किसी तार के लोग कर सकते हैं।

अल्टरनेटिंग करंट के अंदर सिर्फ एक खामी होती है जो कि उसकी एनर्जी बहुत ज्यादा होती है डायरेक्ट करंट से, उसको संभालने की निकोला टेस्ला ने ट्रांसफार्मर भी डिजाइन कर दिया होता है।  ट्रांसफॉर्मर का यही काम होता है की अल्टरनेटिंग करंट की एलर्जी को कम कर देता है जिसकी वजह से उसकी त्रिविता भी कम हो जाती है क्योंकि ओरिजिनल अल्टरनेटिंग करंट की एनर्जी बहुत ज्यादा होती है और उनके जो घरों में आएगी वह उतनी एनर्जी संभल नहीं सकते हैं। 

1886 तक अल्टरनेटिंग करंट निकोला टेस्ला के द्वारा खोज कर दिए जाती है उस समय तक एडिसन ही बिजली के निर्माता माने जाते थे और इस कारण से उन्हें ही सारी बिजली से चलने वाली चीजों के लिए इनाममित किया जाता था।  जब भी बिजली  की बात आती थी तो एडिसन का ही नाम सभी की जुबान पर होता था क्योंकि अभी तक एडिसन की ही कंपनी बिजली के ऊपर अपना काबू रखी हुई थी और किसी को आने  के लिए अनुमति नहीं देती थी। 

परंतु जब अल्टरनेटिंग करंट का अविष्कार निकोला टेस्ला ने कर लिया तब बड़ी-बड़ी कंपनियां इस चीज को पहचानने लगी कि अल्टरनेटिंग करंट डायरेक्ट करंट से ज्यादा महत्वपूर्ण हो सकती है और इस कारण से बड़ी-बड़ी कंपनियां टेस्ला के इस प्रोजेक्ट को मैं पैसा लगाने के लिए तैयार भी होने लग गई थी सबसे बड़ी कंपनी जो टेस्ला के आविष्कार में हाथ बढ़ाना चाहती थी वही वह थी वेस्टिंगहाउस। 

वेस्टिंगहाउस निकोला टेस्ला को अपने ट्रांसफार्मर डिजाइन को बेचने के लिए $60000 देते हैं और साथ ही साथ में निकोला टेस्ला के साथ एक आगे तक डील करते हैं जिसमें वह हर एक हॉर्स पावर के लिए टेस्ला को 2.5  डॉलर देने के लिए तैयार हो जाते हैं और यह निकोला टेस्ला के लिए बहुत ही बड़ी कामयाबी शामिल होती। 

साथ ही जब यह चीज एडिसन को पता चलती है तो एडिसन बिल्कुल जंग में उतरने के लिए तैयार हो जाते हैं वह अपने हाथ में सब कुछ लगा देते हैं कि निकोला टेस्ला का अल्टरनेटिंग करंट उनके डायरेक्ट करंट से बेकार साबित करने के लिए। इससे सिद्ध करने के लिए वह हर तरीके अपनाने लगते हैं और हर तरफ से एडिसन निकोला टेस्ला के अल्टरनेटिंग करंट को दबाने की कोशिश कर रहे होते हैं। दूसरी तरफ से वेस्टिंगहाउस एडिशन को विरोध करने की कोशिश कर रहे होते हैं और इसके कारण वेस्टिंगहाउस का सारा पैसा एडिसन को उनके ही खेल में हराने के लिए खत्म होने लगता है और कंपनी के पास अब लगभग ज्यादा पैसा नहीं बचता है कि आगे वह कुछ कार्य कर सकें।  इसी कारण से निकोला टेस्ला अपनी जो पहले वेस्टिंगहाउस के साथ सौदा किया था थी उसको तोड़ देते हैं जिससे उनकी करंट हर घर में वेस्टिंगहाउस फैला सके।

निकोला टेस्ला की जीवनी – तीसरा भाग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *