वृक्षारोपण के लाभ – वृक्षारोपण क्यों आवश्यक है ( vriksharopan ke labh )

इंसान को जीने के लिए शुद्ध हवा, साफ पानी, खाना, रहने को घर चाहिए और ये सब हमारे पास अगर मौजूद है तो सिर्फ पेड़ की ही वजह से। अगर पेड़ ना होते तो धरती पर कोई इंसान या कोई भी जीव नही होता। क्योंकि हवा सांस लेने लायक ही नहीं होती। हम पेड़ की पूजा भी करते हैं और अपनी जरूरतों के हिसाब से उसे काटते भी हैं। हमारी भारतीय सनातन धर्म की संस्कृति में पेड़ों को प्रकृति देवी का रूप माना गया हैं। पेड़ों के कई लाभ है जिसके बारे में शायद आप नहीं जानते होंगे, तो चलिए आज आपको हम इस लेख में वृक्षारोपण के कई महत्त्व पूर्ण लाभ बताते हैं।

 

( 1 )हमारी संस्कृति अनुसार पूजनीय :-

हमारी भारतीय संस्कृति में पेड़ों को पूजनीय माना गया है। हम बरगद, तुलसी, पीपल, केले का पेड़, नीम जैसे पेड़-पौधों की पूजा करते हैं उसमे जल चढ़ाते हैं। हम पूजा में हवन भी लकड़ियों से ही करते हैं। हम विवाह में भी मंडप लकड़ियों से ही बनाते हैं। यहां तक कि जन्म लेने के बाद हम बचपन में झूला भी लकड़ी के पालने में झूलते हैं और मृत्यु के समय लकड़ी पर ही जलते हैं। अगर पेड़ ना होता तो लकड़ियां न होती तो ये सब कार्य कैसे होते? पेड़ हमारे जीवन में कई तरह से पूजनीय है और जीवन में अभिन्न अंग की तरह जुड़ा हुआ है।

 

( 2 ) पेड़ औषधि के रूप में :-

प्राचीन काल की सारी औषधियां पेड़ों से ही ली गई थी जैसे नीम, अश्वगंधा, मुलेठी, धनवती, शिकाकाई, एलोवेरा, तुलसी आदि। आज भी हमारे भारत देश में देसी दवाइयां मिलती है जो प्राकृतिक औषधियों से ही बना होता है।

 

( 3 ) साफ पानी के लिए पेड़ों का महत्व :-

आज अगर पेड़ ना होते तो गंगा एक औषधि नदी के रूप में न जानी जाती। जब गंगा पहाड़ों से गुजराती है तब मार्ग में आने वाले औषधीय पौधे और पेड़ों की औषधि को खुद में समेलित कर के आगे बढ़ती है, इसीलिए गंगा का पानी साफ और पवित्र होता है। पेड़ नदियों के किनारे रोपें जाते है जिससे नदी का क्षेत्र बढ़े नही और उसका पानी साफ रहे। इस लिए अगर हम साफ पानी पी पा रहे हैं तो इसका श्रेय भी पेड़ों को जाता है।

 

( 4 ) पेड़ हमे भोजन देता है :-

पेड़ हमे, फल, हरी सब्जियां, अनाज देता है अगर पेड़ ही नहीं होता तो हमे भोजन नही मिलता। पेड़ से ही ईंधन बनता है और आग जलाई जाती थी पहले के लोग चूल्हे पर खाना बनाते थे और लकड़ी से आग लगा कर खाना पकाते थे अब भी अनाज तो पेड़ों की हो देन है। अगर पेड़ ना हो तो हमे फिर से आदिवासियों की तरह शिकारी बनना पड़ेगा और भोजन के लिए भटकना पड़ेगा। पेड़ है तो भोजन है और भोजन है तो हम है इसी लिए पेड़ है तो हम हैं।

 

( 5 ) पेड़ है तो ऑक्सिजन है :-

पेड़ कार्बन डाइऑक्साइड के बदले ऑक्सीजन का उत्सर्जन करता है और हवा को शुद्ध करता है। आज इस संसार में हम पृथ्वी पर ही जी सकते हैं, मानव जीवन सिर्फ पृथ्वी पर ही संभव है। किसी और ग्रह पर जीवन मुमकिन ही नही,  क्योंकि पेड़ सिर्फ पृथ्वी पर ही है, इसलिए ऑक्सीजन सिर्फ पृथ्वी पर ही है और मानव जीवन ऑक्सीजन के बिना शक्य ही नहीं है। अगर हम जी रहे हैं तो सिर्फ पेड़ों की वजह से वरना पेड़ के बिना जीवन मुमकिन ही नही है। अगर पृथ्वी पर पेड़ ना रहे तो ऑक्सीजन मिलेगा ही नहीं और मानव जीवन का नाश हो जायेगा। इस लिए पेड़ है तो ऑक्सिजन है और ऑक्सीजन है तो मानव जीवन है।

 

( 6 ) हानिकारक गैसों को अवशोषित करता है:-

पेड़ कई तरह के हानिकारक गैसों को अवशोषित करता है और उसे शुद्ध करता है। अगर पेड़ ना रहेंगे तो ये हानिकारक गैस मानव जीवन का अंत कर सकते है या फिर खेत के अनाज को खराब कर सकते हैं। पेड़ ही है जो हमें इन हानिकारक गैसों से बचाता हैं।

 

( 7 ) मिट्ठी बहने से रोकता है :-

आपने देखा ही होगा खेत के किनारों पर अक्सर पेड़ लगाए गए होते हैं ,अक्सर लोग समझते हैं की ये पेड़ खेत के मजदूरों को छाव देने के लिए होते हैं। हालांकि ये तो सच ही है, लेकिन असल में ये पेड़ इस लिए लगाए गए होते हैं, क्योंकि तेज हवा या पानी का तेज बहाव खेत की मिट्टी को बहा न ले जाए। मिट्टी के बहाव से खेत की उत्पादन क्षमता पर प्रभाव पड़ता हैं और खेत की फलद्रुप्ता घटती है। अगर खेत की मिट्टी का बहाव हो जायेगा तो खेत उत्पाद खराब हो सकते हैं। इस लिए पेड़ बोहोत महत्व पूर्ण है खेत उत्पादों के लिए।

 

( 8 ) वर्षा के लिए :-

आपने सुना ही होगा की जहां पेड़ ज्यादा होते हैं, वहां बारिश भी ज्यादा होती हैं और जहां पेड़ नही होते वहां बारिश देर से और कम होती है। जैसे गुजरात और राजस्थान में बारिश कम होती है जबकि केरल में बारिश ज्यादा होती है। इस लिए बारिश लाने के लिए पेड़ों का होना बोहोत जरूरी है।

 

( 9 ) तनाव कम करने के लिए :-

आज कल की व्यस्त जीवन शैली में हर तीसरा इंसान मानसिक स्वास्थ्य से परेशान हैं। हर इंसान को तनाव हैं। तनाव से मुक्त होने के लिए पेड़ व्यक्ति का सबसे अच्छा दोस्त है। जो भी इंसान प्रकृति से जुड़ा रहता है, उसे तनाव कम होता है। हाल ही के एक अध्ययन में पाया गया है की पेड़ों के आसपास रहने से, हरी घास पर चलने से 70 प्रतिशत तक तनाव को मुक्त किया जा सकता है। इतना ही नहीं पथिक को पेड़ छाव भी देता है।

 

( 10 ) सूरज के रेडिएशन से बचाए :-

पेड़ हमे सूरज की किरणों के रेडिएशन से बचाता है और कई तरह के रोग जो सूरज के ओजोन लेवल के घटने से हो सकते हैं उससे बचाता है।

 

( 11 ) आर्थिक लाभ :-

कई लोग आज भी लकड़ियां बेच कर अपना जीवन यापन करते हैं। पेड़ों की कीमत अच्छी है क्योंकि पेड़ से कुर्सी, टेबल, दरवाजा, खिड़की आदि बनाया जाता हैं और ईंधन में भी उपयोगी है।

 

( 12 ) शिक्षा के लिए जरूरी :-

पढ़ाई के लिए कागज, टेबल, पेंसिल, ब्लैकबोर्ड, चोक जैसी चीज भी पेड़ों से ही बनती है।

 

अगर वृक्षारोपण ना किया जाए तो इस धरती पर पेड़ नही रहेंगे और न ही मानव-जाति का अंश होगा।

Leave a Comment